pathik

भारत की 12 सबसे डरावनी और भूतिया जगहें

Posted by: on December 2, 2021

क्या आप जानतें हैं भारत की सबसे डरावनी जगह कौन सी हैं? हम अक्सर ऐसी जगहों के बारे में सुनते हैं जो काफी मशहूर तो होती हैं लेकिन डरावनी भी होती हैं। इन जगहों पर जाने से पहले हर किसी का थोड़ा डर जाना लाजमी है। कई जगह ऐसी हैं, जहां लोग दिन के समय तो चले जाते हैं लेकिन शाम होने के बाद नहीं जाते। वैसे तो आपने भूतों के बारे में अपने बड़े-बुजुर्गों से खूब सुना होगा। लेकिन, भारत में कुछ ऐसी जगह भी हैं जो वहां होने वाली अनहोनी घटनाओं के लिए जानी जाती हैं। 

भारत में भूत-प्रेत की कहानियां कई सालों से लोगों को रोमांचित करती आ रही हैं, लेकिन देश में कई ऐसी जगह भी जहां कहानियां ही नहीं बल्कि हकीकत में भी भूत देखे जाते हैं। ऐसी एक दो ही नहीं बल्कि कई जगह हैं। जिसमें कुछ तो श्राप की वजह से उजड़ चुकी है, जबकि कई आत्माओं की वजह से लोगों को भयभीत कर रही हैं। इन स्थानों पर ऐसे कई बोर्ड भी लगे देखे जा सकते हैं, जिनपर चेतावनी लिखी होती है कि सूरज ढलने के बाद यहां ना ठहरें। इसलिए लोग दिन के उजाले में ही यहां आते हैं। लेकिन ये जगह इतनी डरावनी क्यों हैं? इसका पता ठीक से नहीं चल पाया है। हालांकि हर डरावनी जगह के पीछे एक कहानी जरूर छिपी है।

1. ब्रिज राज भवन होटल, कोटा

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

राजस्थान के कोटा शहर में ब्रिज राज भवन पैलेस नाम का एक होटल मौजूद है। ये होटल करीब 178 साल पुराना है। इसे 1980 के दशक में हेरिटेज होटल के रूप में बदल दिया गया था। आपको ये बात जानकर हैरानी होगी कि इस जगह को भूतों का घर कहा जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस स्थान पर मेजर बर्टन का भूत रहता है जो किसी को भी नुकसान नहीं पहुंचाता। ये कहानी काफी प्रसिद्ध है कि मेजर बर्टन ब्रिटिश शासन के समय कोटा में ही तैनात थे और साल 1857 में हुए विद्रोह में उन्हें भारतीय सिपाहियों ने मार दिया था। ऐसे में अब ये सवाल उठता है कि इस होटल में ही उनका भूत क्यों रहता है, तो इसके पीछे का जवाब ये है कि मेजर को इसी होटल के सेंट्रल हॉल में मारा गया था।

2. जमाली-कमली मस्जिद, दिल्ली

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

कुतुब मीनार के साथ अपनी सीमाओं को साझा करने वाली जमाली-कमली मस्जिद अपनी भूतिया कहानी की वजह से काफी चर्चित है। ऐसा कहा जाता है कि जमाली- कमली की दीवारों के भीतर जिन्न रहते हैं जो कई किस्सों की वजह से चर्चित हैं। यहाँ पर होने वाले अनपेक्षित घटनाओं की वजह से लोग यहाँ जाने से बहुत डरते हैं। इस्लामी महापुरूषों की माने तो जिन्न मनुष्यों के समानांतर ब्रह्मांड में रहते हैं। ऐसा कहा जाता है कि भगवान ने मनुष्यों को रेत और जिन को आग से बाहर कर दिया था इसलिए उनके पास अपने अस्तित्व की दुनिया है और दुनिया पार करने की शक्ति भी है। बताया जाता है कि यह जिन छोड़ी हुई जगह और खंडरों में रहते हैं और उस जगह को कभी नहीं छोड़ते। जब वे उन जगहों पर इंसानों के जाने से परेशान होते हैं तो उन्हें नुकसान पहुंचाते हैं।

3. कुलधरा गांव, राजस्थान 

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

कुलधरा गाँव भारत के सबसे निर्जन और भूतिया गाँव में से एक है जिसे 1800 के दशक से छोड़ दिया गया है। ऐसा बताया जाता है कि यह ग्रामीणों का एक अभिशाप है जो 7 शताब्दियों तक वहाँ रहने के बाद रातों-रात वहाँ से गायब हो गया था। अब यह गाँव पूरी तरह से खंडर बन चुका है। कुलधारा गाँव 1291 में पालीवाल ब्राह्मणों द्वारा स्थापित किया गया था। यह जगह व्यापार कौशल और कृषि ज्ञान के लिए जानी-जाती थी, लेकिन बताया जाता है कि 1825 में एक रात कुलधारा और आसपास के 83 गांव के सभी लोग अंधेरे में गायब हो गए।

इस जगह के बारे कहा जाता है कि राज्य के मंत्री सलीम सिंह ने एक बार इस गाँव का दौरा किया था और मुख्य सरदार की खूबसूरत बेटी से शादी करना चाहते थे। मंत्री ने गाँव के लोगों को धमकी दी कि अगर उनकी उस लड़की से शादी नहीं हुई तो वो उनपर बहुत बड़ा कर लगाएंगे। इसके बाद वहां के लोगों ने लड़की के सम्मान की रक्षा करने के लिए  गाँव को छोड़ने का फैसला लिया। बताया जाता है कि किसी ने उन लोगों को गाँव छोड़ते हुए नहीं देखा और वो कहा गए नहीं पता बस सब एक दम से गायब हो गए।

4. वृंदावन सोसायटी ठाणे,मुंबई

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

वृंदावन सोसायटी को ठाणे के सबसे प्रसिद्ध हाउसिंग सोसाइटियों में से एक माना जाता है। इस सोसायटी को कई लोगों ने भूतिया भी बताया है। यहाँ रहने वाले और यहाँ रात के समय आने वाले लोगों कुछ अजीब घटनाओं का एहसास किया है। बता दें कि यह जगह दिखने में किसी भूतिया जगह जैसी नहीं दिखती लेकिन यहां पर होने वाली कुछ अजीब गतिविधिओ के चलते इस जगह को भारत की टॉप भूतिया जगहों की सूचि में शामिल किया गया है। इस जगह के बारे में कहा जाता है कि यहां रहने वाले एक इंसान ने सोसायटी में आत्महत्या कर ली थी, जिसके बाद उसकी आत्मा यहाँ भटकती है और लोगों को परेशान करती है।

यह भी पढ़ें: भारत के 14 प्राचीन,चमत्कारी और रहस्यमयी मंदिर

5. भानगढ़ का किला, राजस्थान 

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

राजस्थान के अलवर में स्थित भानगढ़ का किला डरावना होने के चलते दुनियाभर में मशहूर है। ऐसा कहा जाता है कि इस किले का वातावरण ही ऐसा है, जिससे किसी की मौजूदगी महसूस की जा सकती है। यहां आने वाले लोगों को अचानक बेचैनी महसूस होने लगती है। ऐसी अफवाहें भी हैं कि यहां आकर कई लोग गायब भी हो चुके हैं। हालांकि फिर भी भानगढ़ घूमने आने वालों की संख्या काफी अधिक है। इस किले के बाहर साफ लिखा है कि यहां शाम के बाद ना ठहरें। इसके पीछे की कहानी ये है कि यहां एक रानी रहा करती थी, जिसपर एक तांत्रिक ने तंत्र विद्या की। वो रानी को हासिल करना चाहता था लेकिन रानी ने ऐसा कभी नहीं होने दिया। बाद में मरते समय तांत्रिक ने इस स्थान को श्राप दे दिया था।

6. रामोजी फिल्म सिटी, हैदराबाद 

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में स्थित रामोजी फिल्म सिटी को भी भूतों का घर कहा जाता है। ऐसा कहते हैं कि यहां कई सैनिकों के भूत रहते हैं। ये फिल्मसिटी उसी भूमि पर बनी है, जबां निजामों के समय युद्ध हुआ करता था। स्थानीय लोगों का कहना है कि ये स्थान बेहद लंबे समय से ही डरावना रहा है।

7. बारोग टनल, हिमाचल प्रदेश 

भारत की सबसे डरावनी और भूतिया जगह

हिमाचल प्रदेश का बारोग टनल भी भूतहा स्थान माना जाता है। यह शिमला-कालका मार्ग पर रेलवे स्टेशन के पास स्थित है। इसके डरावना होने के पीछे की कहानी ये है कि यहां 20वीं शाताब्दी की शरुआत में एक इंजीनियर ने आत्महत्या कर ली थी। टनल नंबर 33 को ही बारोग टनल के नाम से जाना जाता है। इसके पीछे की कहानी शुरू होती है साल 1903 से। जब ब्रिटिश सरकार ने उस समय के सुनसान क्षेत्र में टनल बनाने के लिए कर्नल बारोग को नियुक्त किया। कर्नल बारोग अपने काम में काफी निपुण थे लेकिन उनके कैल्कुलेशन में कुछ गलती हो गई थी, जिसके चलते सुरंग लगातार गहरी होती जा रही थी।

इससे उनकी सारी मेहनत पर पानी फिर गया। इसके बाद कर्नल बारोग डिप्रेशन में आ गए, उन्हें लगा कि इसके लिए उन्हें काफी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ेगा। इसके बाद उन्होंने टनल के अंदर ही खुद को गोली मार ली। हालांकि बाद में एक अन्य इंजीनियर ने टनल को पूरा करने का काम किया। लेकिन ऐसा कहा जाता है कि कर्नल बारोग ने इस स्थान को कभी नहीं छोड़ा। इस रेलवे स्टेशन को बारोग रेलवे स्टेशन नाम दिया गया। स्थानीय लोगों का कहना है कि उन्हें टनल के पास कर्नल की आत्मा कई बार दिखाई देती है। हालांकि ये भी कहा जाता है कि कर्नल बारोग की आत्मा ने आज तक किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है।

8. डिसूजा चॉल, मुंबई 

डिसूजा चॉल, मुंबई 

मुंबई के महीम में स्थित डिसूजा चॉल को भी डरावनी जगहों में से एक माना जाता है। यहां के स्थानीय लोगों का कहना है कि दशकों पहले एक महिला दुर्घटनावश कुए में गिर गई थी। जिसके बाद से उसकी आत्मा चॉल के आसपास घूमती है। हालांकि इसके साक्षात प्रमाण नहीं मिले हैं और ये कहानी सच्ची है या नहीं इस बारे में भी कुछ स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है। लेकिन चॉल में रहने वाले लोग सूर्यास्त के बाद घरों के अंदर ही रहते हैं।

9. खैरताबाद साइंस कॉलेज, हैदराबाद 

 खैरताबाद साइंस कॉलेज, हैदराबाद 

तेलंगाना के हैदराबाद शहर में स्थित खैरताबाद साइंस कॉलेज कभी चहल पहल वाला स्थान हुआ करता था। लेकिन आज के समय में कई वजहों से इसे डरावना माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि जिस समय इस कॉलेज को बंद किया गया, तब यहां की बायोलॉजी लैब में कुछ शव थे, जिन्हें ऐसे ही छोड़ दिया गया। इसके बाद से शहर के लोग इस बिल्डिंग को लेकर कई तरह की कहानियां सुनाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि यहां कंकालों को चलते देखा गया है। इस स्थान से अजीबों गरीब आवाजें आती हैं। इसके अलावा यहां बिल्डिंग की सुरक्षा के लिए एक गार्ड को नियुक्त किया गया था, जिसकी रहस्यमय तरीके से मौत हो गई थी।

10. दिल्ली कैंट, नई दिल्ली 

दिल्ली कैंट, नई दिल्ली 

देश की राजधानी दिल्ली में भूतों की कहानी काफी प्रचलित हैं। दिल्ली देश के अन्य शहरों से भी रोड, रेल के माध्यम से जुड़ी हुई है। ऐसा कहा जाता है कि दिल्ली कैंट के पास का इलाका डरावना है। लोगों का मानना है कि यहां एक महिला का भूत रहता है। जो कई बार सफेद रंग के कपड़ों में दिखाई दे चुकी है। ऐसी कहानियां हैं कि इस महिला का भूत रास्ते से जाने वाली गाड़ियों से लिफ्ट मांगता है और फिर अचानक ही गायब हो जाता है। इस जगह को भारत की भूतिया जगहों की सूचि में शामिल किया गया है।

यह भी पढ़ें: भारत के पहले मस्तिष्क संग्रहालय की करें यात्रा

11. शनिवार वाडा किला, पुणे 

 शनिवार वाडा किला, पुणे 

महाराष्ट्र के पुणे शहर में स्थित शनिवार वाडा किले को पेशवा वंश के शासकों ने बनवाया था। इस किले की दीवारों में भी बहुत सी कहानियां छिपी हुई हैं। यहां सैकड़ों साल पहले जो कुछ हुआ, उसे सुनकर आज भी लोगों की रूह कांप जाती है। यहां शाही सिंहासन के उत्तराधिकारी, एक राजकुमार की उसके करीबी रिश्तेदारों के आदेश पर हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद से ऐसा माना जाता है कि उसकी चीखने की आवाजें आज भी यहां सुनाई देती हैं। इसी कारण लोग सूरज ढलने के बाद यहां आने से डरते हैं।

12. कोलकाता, राइटर्स बिल्डिंग 

कोलकाता, राइटर्स बिल्डिंग 

इस पुरानी बिल्डिंग में प्रशासनिक कर्मचारी काम करते हैं लेकिन कोई भी सूर्यास्त के बाद नहीं ठहरता है। इस बिल्डिंग के कई कमरे खाली पड़े हैं और उन्हें दशकों से नहीं खोला गया है। इस जगह को लेकर ये कहानी प्रचलित है कि यहां के खाली कमरे अब भूतों का बसेरा बन चुके हैं और शाम होने के बाद से ही यहां डरावनी आवाजें आती हैं। यहां शाम के बाद चीखने और चिल्लाने की आवाजें आती हैं। जांच में इनमें से किसी भी घटना के विशेष कारण का पता नहीं चल पाया है, जिससे यह स्थान काफी डरावना माना जाता है।

admin
https://blog.pathik.co
admin@gmail.com

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Share your experience

If you have something awesome to share such as an adventure or a list you would like others to experience share them with us. We'll publish it. Mail us at: pathikco2020@gmail.com

Remember to share your name, email id, website/blog (if/any) along with the post.